Brief Bio of V Jain




Dr. Vivekanand Jain
Deputy Librarian, Central Library,
Banaras Hindu University



डा. विवेकानन्द जैन, केन्द्रीय ग्रंथालय, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में उपग्रंथालयी (डिप्टी लाइब्रेरियन) के पद पर कार्यरत हैं। आप केन्द्रीय ग्रंथालय के संदर्भ विभाग, टेक्स्ट बुक विभाग का कार्य संचालन देख रहे हैं।

आपको पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान के क्षेत्र में लगभग 23 वर्षों के कार्य का अनुभव है। आपने टी.एफ.आर.आई. जबलपुर तथा एन.आई.सी. नई दिल्ली के पुस्तकालय में कार्य किया है। इसके बाद जुलाई 1996 से आप काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की सेवा में हैं।

आप अंतर्राष्ट्रीय पुस्तकालयों के महासंघ “इफला” के “इंफोर्मेशन टेक्नोलोजी” यूनिट के सदस्य (2009-2013) रहे हैं। इस दौरान आपने इटली, फ्रांस, फिनलैण्ड, एस्टोनिया, सिंगापुर आदि की संगोष्ठी हेतु यात्रायें की तथा लेख वाचन भी किया। आपके द्वारा 2 पुस्तकें* तथा 40 से अधिक शोध लेख प्रकाशित हो चुके हैं। आप पुस्तकालय संगठनों (ILA, IASLIC, SIS, IATLIS, IFLA आदि से जुड़े हैं।

आपने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के पूस्तकालय एवं सूचना विभाग से “इण्टरनेट सर्च इंजिन” के मूल्यांकन पर शोध कार्य किया है। आपको वर्ष 2010 में शोध उपाधि प्रदान की गयी।

* आपके शोध कार्य पर आधारित दो पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं : 

1. Retrieval Efficiency of Internet Search engines By Dr. Vivekanand Jain LAP LAMBERT Academic Publishing, Saarbrucken, Germany. 2011. ISBN 978-3-8454-1535-2

2. Search Engines: Utility and Efficiency. By Dr. Vivekanand Jain
Shree Publishers, New Delhi. 2011.  ISBN 978-81-8329-419-5

Chapter in IFLA Book : 
     Academic libraries and their religious collection. IN Libraries serving dialogue. Edited by Odile Dupont. Berlin: De Guetyer, 2014. ISBN : 978-311-031-693-3 (IFLA Publication Series, 163). 

Article in "Library Review"

Empowering the poor with right to information and library services. Library Review  62 (1-2) 2013. pp. 47-52. (ISSN:0024-2535). (This paper presented in IFLA 2012 at Tallinn, Estonia.) DOI 10.1108/00242531311328159.

Chapter in Book : 
 Digitization Work of Jain Heritage in India. (Based on papers presented in IFLA Relindial seminar at Institute Catholique de Paris on 25-26 Aug. 2014). IN Libraries at the Heart of Dialogue of Cultures and Religions. Cambridge Scholars Publishing, UK. 2016. (ISBN 978-1-4438-9059-5)


(डा. विवेकानन्द जैन)
उप ग्रंथालयी, केन्द्रीय ग्रंथालय
काशी हिन्दू विश्वविद्यालय
वाराणसी – 221005
मो. +91 9450538093